दोस्तों एक ऐसा बिजनेस जिसकी शुरुआत आप घर से कर सको, लागत भी कम हो, और मुनाफा भी अधिक हो, जिसमें आपको सिर्फ कुछ घंटे ही काम करके हजारों रुपए हर रोज के मिलेंगे, अगर आप इस बिजनेस को करना चाहते हैं, तो आर्टिकल को पूरा पढ़ें.. कोई भी पॉइंट मिस (Miss) ना करें नहीं तो आपको नुकसान हो सकता है, आज हम जिस बिजनेस की बात करने वाले हैं, उस बिजनेस का नाम है Cocopeat Coir Business.

जी हाँ यह एक ऐसा Small Business Idea है, कि जिसकी डिमांड कभी कम नहीं होने वाली इस बिजनेस को आप शुरू कर सकते हैं।

Cocopeat Coir Business क्या है?

आपने कभी ना कभी नारियल पानी तो पिया ही होगा, और पानी पीने के बाद छिलके को फेंक दिया होगा, पर क्या आपने कभी सोचा है, कि उस फेके हुए छिलका का क्या होता होगा? नहीं ना , दोस्तों वो आपके लिए एक कचरे के समान होगा, लेकिन वही एक बिजनेसमैन के लिए यह एक रॉ मटेरियल का काम करता है, Small बिजनेस करने वाले लोग उन सभी कचरे को एकत्रित करते हैं, उससे तरह तरह के प्रोडक्ट को तैयार करते हैं, और इसी बिजनेस को CocoPeat Coir Business कहते हैं|

इस बिजनेस के Startup के कौन-कौन सी चीजों की आवश्यकता होगी?

इस बिजनेस के Startup के कौन-कौन सी चीजों की आवश्यकता होगी

इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको कुछ चीजों की आवश्यकता पड़ने वाली है, अगर ये सब चीज आपके पास रहेगा तभी आप यह बिजनेस बड़े लेवल पर कर पाओगे|

  1. जगह:- आपके पास एक बड़ी जगह होनी जरूरी है, जहां पर आप एकत्रित किए हुए Raw मटेरियल और मशीन रखोगे, आप गांव में यह बिजनेस स्टार्टअप करते हैं, तो आपको 1 प्लस पॉइंट मिल जाएगा, कि काफी बड़ी जगह आपको सस्ते दामों पर मिल जाएगी|
  2. कच्चा माल:- आपको ऐसा जगह खोजना है, जहां पर नारियल का उत्पादन अधिक या सेवन अधिक किया जाता है, क्योंकि जहां जितना अधिक लोग कोकोनट का सेवन करेंगे| वहीं पर इसका कचरा ज्यादा एकत्रित होगा,जो कि आपका रॉ मैटेरियल होगा, आप सभी छोटे-बड़े दुकानों से संपर्क कर सकते हैं| और उनसे बोल कर उनके यहां का सभी बेकार नारियल का खोल लेकर आ सकते हैं|
  3. रॉ मटेरियल लाने के लिए लोग:- आप कुछ लोगों को अपने यहां काम पर रख सकते हैं, जो सभी दुकानों पर से रॉ मटेरियल उठाकर आपके पास लेकर आएं या आप हर रोज किसी को पैसे देकर उससे रो मटेरियल मंगवा सकते हैं,
  4. मजदूर :- आपको कुछ मजदूरों की जरूरत पड़ने वाली है, क्योंकि यह काम अकेले संभव नहीं है, इसमें बहुत तरह के काम होते हैं, जिसे करने के बाद ही पूरे Finishing होती है, और एक कचरे से बेहतर प्रोडक्ट तैयार होता है| आपको मजदूर रखने ही पड़ेंगे जरूरत के हिसाब से, आप उन्हें हर रोज की मजदूरी दे सकते हो, या महीने में एक बार फिक्स कर सकते हो |
  5. मशीन:- आप को सबसे मेन जो चीज चाहिए, कोकोपीट बिजनेस के लिए वह है, मशीन आपको 4 तरह के मशीनों की आवश्यकता पड़ने वाली है, जिन्हें आपको हम नीचे के पॉइंट में बता रहे हैं।
  • Fiber Extractor Machine:– दोस्तों यह हमारा पहला मशीन होगा जिसमें हम अपने कोकोनट के छिलके को यानि अपने कच्चा माल को डालेंगे और इसमें से दो चीज निकलेगा|

    Cocopeat

     Coir (Fiber)

  • Screening Machine:– यह हमारा दूसरा मशीन होगा, जिसमें हम Extract किए हुए फाइबर को डालेंगे, और इसमें से जो भी छोटे-छोटे Coir होंगे वो निकल जाएंगे और केवल फाइबर रह जाएगा, जिस पर हम आगे का प्रोसेस करेंगे |
  • Willowing Machine:- यह हमारे तीसरी मशीन होगी, जिसमें हम अपना स्क्रीनिंग किए हुए, मटेरियल को डालेंगे, जिससे यह मशीन पूरी तरह से क्लीन करके एक रेशा बना देगा,जिससे हम आगे का प्रोसेस करेंगे |
  • Rope Making Machine :– यह हमारी आखरी मशीन होगी| जिसमें हम Willowing से क्लीन किए हुए फाइबर को डालेंगे, परत-दर-परत और तीन परत में यह ऐंठती चली जाएगी, और यह बहुत ही बेहतर रस्सी तैयार हो जाएगा | आप मार्केट में इससे बेचकर पैसे कमा सकते हो|

क्या क्या बनेगा नारियल के बेकार खोल से ?

क्या क्या बनेगा नारियल के बेकार खोल से

नारियल के बेकार खोल से बहुत सी चीजें बनाई जाती है जैसे कि:-

  1. रस्सी:- नारियल की रस्सी आपने देखी होगी यह कितनी मजबूत होती है आप यह भली-भांति जानते हैं|
  2. पैर पायदान:- आपने लगभग सभी के घरों में यह चीज देखी होगी, जो दरवाजे के पास या अंदर रखा होता है, लोगों के पैर पोछने के लिए|
  3. नारियल के पोट्स:- आप नारियल के पॉट्स भी बना सकते हैं,इसकी कीमत लगभग 100 से ₹140 तक होती है इसके अलावा और भी कई चीजें हैं, जो कोकोपीट के द्वारा बनाई जाती हैं|

Cocopeat घर पर कैसे बनाएं ? केवल घरेलू उपयोग के लिए

अगर आप इतनी बड़ी मशीनों को Afford नहीं कर सकते, और घर पर ही कोकोपीट को बनाना चाहते हैं, तो आप बना सकते हैं, हां लेकिन एक बात बता दूं, कि मेहनत आपको बहुत ज्यादा करना पड़ेगा, क्योंकि जो काम एक मशीन 1 घंटे में कर सकती है, वही काम एक आदमी को मैनुअल करने में कम से कम 10 घंटे लगेंगे,

चलिए अब हम आपको बनाने की विधि बताते हैं सबसे पहले आपको Coir फाइबर बनाना सिखाते हैं फिर आपको कोकोपीट बनाना सिखाएंगे|

Coir Fiber:- आप सबसे पहले नारियल के छिलके को अच्छे से Cut कर लीजिए, जिससे कि उसकी रेशे निकलने में आसानी हो, अब 3 से 4 दिन तक धूप में सुखाएं, और एक मिनी Fiber Extractor मशीन लें, जिससे आपको फाइबर को एक्सट्रैक्ट करने में आसानी होगी, इसके बाद एक हैंडमेड मशीन चाहिए जिससे मैनुअली रस्सी बनाया जाए, यह बाजार में सस्ते दामों पर मिल जाएगा|

पहले लोग इसी तरह से रस्सी बनाते थे, लेकिन जैसे-जैसे समय बदलता गया नई नई मशीनें आने लगी, और इसकी भी मशीन आ गई और नारियल के रस्सी बनाने वाले को सहूलियत मिली |
मैं Recommend नहीं करूंगा कि आप Handmade Coir Fiber को बनाएं आगे आपकी मर्जी

जरूर पढ़े –

दूसरा हम आपको बताएंगे कि कोकोपीट कैसे बनाएं?

कोकोपीट कैसे बनाएं

सबसे पहले आपको नारियल के रो मटेरियल लेना है, फिर इसे 4 से 5 दिन तक सुखाएं फिर उसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें उसके बाद उसे मिक्सिंग मशीन में पीस लें, यह ध्यान रखें कि नारियल को इतना छोटा छोटा और मुलायम रखना है, कि यह मशीन में आसानी से मिल जाए यह पूरी तरीके से तो नहीं पिस पाएगा|

इसमें कुछ ना कुछ फाइबर जरूर रह जाएगा इसलिए इसको छान लो और पानी में 8 से 10 घंटे तक भिगोकर छोड़ दीजिए, जब पूरा पानी सोख लें, तो इसमें से पानी को निचोड़ कर अलग कर ले, बस अब हो गया आपका कोकोपीट तैयार
आप इसका इस्तेमाल घर में पोर्ट्स बनाने में कर सकते हैं,या खेतों में भी डाल सकते हैं बड़े ही जबरदस्त फायदे हैं इसके एक बात का खास ध्यान रखें कि इसमें से जो भी पानी होगा जो अपनी छोड़िएगा उसे पेड़ पौधे या गार्डन में मत डालिए गा नहीं तो आप का पौधा सूख सकता है|

Cocopeat Coir Business के फायदे और विशेषता

Cocopeat Coir Business के फायदे और विशेषता

दोस्तों अपने कोकोपीट Coir के बारे में तो जान लिया कि इससे रस्सी बनती है, इसका क्या इस्तेमाल होता है? अब मैं आपको बताने वाला हूं कि आप कोको पीट के पाउडर का इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं?

  • पौधों के ग्रोथ में सबसे अधिक अच्छी भूमिका निभाता है या पाउडर
  • इससे ईट भी बना सकते हैं मिट्टी के गमले भी बना सकते हैं|
  • जब एक बार आपको Cocopeat बना लेते हैं, तो वह 1 साल तक इस्तेमाल करने के लायक रहता है,
  • कोकोपीट में कभी भी बैक्ट्रियां नहीं लगता है, और यह जब मिट्टी में जाता है, तब भी इसमें कीड़े नहीं लगते और ना ही पौधों में और पौधे अच्छे से ग्रोथ करते हैं,
  • यह पानी बहुत ही कम लेता है और उत्पादन अधिक करता है, क्योंकि इसमें पानी सोखने की क्षमता काफी अधिक होती है,
  • वजन कम होना:- इसका प्रमुख कारण इसका हल्का होना है, जिसके कारण फेमस है, इससे बने पोर्ट्स इतने हल्के होते हैं, कि जिससे आप कहीं पर भी रख सकते हैं लोग इससे बने गमले को अपने छत पर या बालकनी में रखना पसंद करते हैं|
  • हाइड्रोपोनिक्स यानी बिना मिट्टी के केवल पानी और बालू से जहां पौधे उगाए जाते हैं, आप इसका इस्तेमाल उसमें कर सकते हैं, बालू के स्थान पर|
  • नोट:- कोकोपीट ऑनलाइन ₹50 से ₹100 प्रति किलो में मिलता है, अगर आप नहीं बनाना चाहते हैं तो ऑनलाइन मंगवा सकते हैं, लेकिन अगर आपके पास नारियल के खोल की व्यवस्था हो तो आप इस का चूर्ण बना सकते हैं, जब पूजा के समय आपके यहां नारियल आए तो आप उससे यह बना कर देख सकते हैं,
Cocopeat Coir Business के लिए कितना इन्वेस्टमेंट चाहिए?
  • इस Business के लिए आपको जितनी जगह चाहिए उस जगह का किराया लगेगा| यह सभी जगह अलग-अलग हो सकता है |
  • आपको चार मशीन की जरूरत पड़ेगी, तो उसका दो से ढाई लाख रुपए तक लग सकते हैं |
  • मजदूर आप जितना रखोगे तो एक मजदूर की मजदूरी पूरे महीने का 10000 से लेकर ₹20000 तक हो सकता है|
कितना प्रॉफिट होगा?

आपको इसमें सारा खर्चा काटकर लगभग 50% से अधिक की बचत होती है, जो इन्वेस्टमेंट होगा उस शुरू में ही आपको मशीन खरीदने पर होगा, उसके बाद आपको रो मटेरियल तो मानो फ्री में मिल जाएगा|

निष्कर्ष:- तो दोस्तों आशा है, की आप समझ चुके होंगे कि CocoPeat Coir business कैसे शुरू करें? कितना इन्वेस्टमेंट लगेगा? आप घर पर कैसे बना सकते हैं? क्या क्या बना सकते हैं? अगर आर्टिकल अच्छा लगा तो feedback जरूर दीजिएगा