सूअर पालन का व्यवसाय पहले से ही हमारे देश में बहुत सारे लोगों का कमाई का जरिया रहा है क्योंकि यह भी कृषि से जुड़े व्यापार में ही आता है, मीट उत्पादन के दृष्टिकोण से Pig Farming Business वैश्विक स्तर पर फैला हुआ है ओर इसमें कई अच्छी-अच्छी- नस्ल भी पाई जाती है, लेकिन भारत के वातावरण के अनुकूल कुछ सूअर के नसल ही होते है |

इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए उधमी सूअर के किसी भी अच्छी नस्ल के साथ Pig Farming का व्यवसाय शुरू कर सकता है लेकिन इसका पालन कुछ निम्न वर्ग के द्वारा ही किया जाता है और यह सत्य है कि Pig Farming करने वाले उधमी को लोक सम्मानजनक दृष्टिकोण से नहीं देखते लेकिन अब समय बदल रहा है धीरे-धीरे इसकी डिमांड भी बढ़ रही है और व्यवसाय दृष्टिकोण से इसमें काफी अच्छा प्रॉफिट है |

Pig Farming Business क्या है ?

सुअर पालन व्यवसाय तेजी से बढ़ता जा रहा है जिसमें सूअर के अलग-अलग नस्ल को पाल कर उसे अच्छे दामों में बेचा जाता है ओर इस व्यवसाय को शुरू करने वाले पशुपालकों और किसानों को सरकार 25 प्रतिशत सब्सिडी देती है |

वैश्विक स्तर पर सूअर पालने का व्यवसाय सबसे ज्यादा चीन, रूस, अमेरिका, पूर्वी जर्मनी और ब्राजील जैसे देशों में किया जाता है और हमारे देश में सूअर पालने का व्यवसाय सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में किया जाता है |

Pig Farming Business के प्रकार ?

इस व्यवसाय को 2 तरीकों से किया जा सकता है पहला ब्रीडिंग ओर दूसरा फेटनिंग |

  • Breeding: इस प्रकार के बिजनेस में पहले मादा सूअर बच्चो को जन्म देती है उसके बाद बच्चो को लगभग 2 महीने दूध पिलाती है और फिर नये किसी सूअर पालन को या फिर मार्केट में बेच दी जाती हैं |
  • Fattening: इस बिजनेस में पहले उधमी सूअर को 7 से 8 महीने पालन पोषण कर के बड़ा करता है और इतने टाइम में वो 100 से 120 किलो का हो जाता है फिर उसे मार्केट में मीट के लिए व्यापारी को बेच देते हो | 

पिग फार्मिंग बिजनेस के लिए ब्रीड ?

इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए अच्छी सूअर की ब्रीड का चुनाव करना होता है जिसके जरिए व्यवसाई के माध्यम से अच्छा प्रॉफिट कमा सकते हैं हमारे देश में सुवरों की कई ब्रीड पाई जाती है लेकिन उसमें से कई ब्रीड है ऐसे हैं जो व्यवसाय करने के लिए ठीक नहीं होते हैं जैसे कि देसी काले रंग का सूअर जो हमेशा गंदगी में ही रहता है उसके साथ आप बिजनेस नहीं कर सकते हैं | आमतौर पर सूअर फार्म में सफेद रंग के सूअर मिलते हैं लेकिन इसके अलावा कुछ अच्छी सूअर की नस्ल है जैसे कि:-

Large White Yorkshire

लार्ज व्हाइट यॉर्कशायर विदेशी ब्रीड है लेकिन यह हमारे वातावरण में भी काफ़ी अच्छे से पाले जा सकते हैं ओर पिग फार्म मैं सबसे ज्यादा यही ब्रीड पाई जाती है ये ब्रिड सफेद रंग और लंबी साइज कि होती है और इसका वजन लगभग 300 से 400 किलो भी ही सकता है |

अगर इस ब्रीड का इस्तेमाल Fattening के लिए करते हैं तो ये 6 से 7 महीने में 100 किलो से भी ज्यादा वजन की हो जाती है ओर मादा लार्ज व्हाइट यॉर्कशायर एक बार में 13 से 14 बच्चों का जन्म देती है |

LandRace

इन नस्ल के सूअर का रंग सफेद होता है लेकिन इनकी त्वचा पर काले रंग के धब्बे होते है ओर इनकी लंबाई भी बड़ी होती है ओर लंड्रेस नस्ल के सूअरों के कान नीचे की तरफ गिरे हुए होते है ब्रिड भी कॉमर्शियल फार्मिंग के लिए फायदेमंद साबित होता है और इसका वजन भी लगभग उतना ही रहता है लेकिन ये साइज में थोड़ी छोटी रहती है।

Middle White Yorkshire

मिडिल व्हाइट यॉर्कशायर का रंग भी सफेद होता है और ये भारत के कुछ ही हिस्सो में रखी जाती है मे भी काफ़ी अच्छी क्वालिटी के होते ओर इसमें बड़ी मादा का वजन 180 से 250 किलो तक का हो सकता है |

अन्य नस्लें

हमारे देश के मौसम और जलवायु के अनुसार सूअर पालन के लिए कुछ और नस्लों को भी उपयुक्त माना गया है जैसे कि हैम्पशायर, घुंगरू, HS X 1 आदि लेकिन हमारे देश के अलग-अलग वातावरण के अनुसार मुख्यत ऊपर वाली तीन ब्रीड ही पाली जाती है।

पिग फार्मिंग व्यवसाय के लाभ ?

पिग फार्मिंग देश में अब बिजनेस का एक साधन बन गया है और इसकी शुरुआत आप छोटे स्तर पर भी कर सकते हैं इस व्यवसाय के जरिए कई सारे लाभ होते है जैसे कि:-

  • Pig Farming Business को बेहद कम इन्वेस्टमेंट मे शुरू किया जा सकता है |
  • सूअर का गोबर भी बहुत उपयोगी होता है और इसका इस्तेमाल खेतों में खाद के तौर पर कर सकते हो या फिर मछलियों को भी खिला सकते है |
  • सूअर बहुत जल्दी ही बड़े होते हैं जिसे आप 6 से 7 महीने में ही 100 किलो से ज्यादा वजन में बेच सकते हैं |
  • इस बिजनेस को शुरू करने के लिए अधिक जगह की आवश्यकता भी नहीं होती है|
  • सूअर मीट की मांग पहले की तुलना में बढ़ती जा रही है |
  • इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि शुअर का मृत्यु दर बाकी जानवरों से काफ़ी कम होता है |
  • इसे शुरू करने के कुछ महीनों के बाद ही उधमी पैसे कमाने लग जाता है |

पिग फार्मिंग बिजनेस के लिए जरूरी चीज़े ?

इस बिजनेस को शुरू करने के लिए विभिन्न चीजों की आवश्यकता होगी जैसे कि:-

  • Pig Farming Shed: सूअर पालने के लिए आपके पास शेड होना चाहिए जिसमें आप उसे रखेंगे और शेड किसी भी प्रकार का हो सकता है कच्चा या पक्का लेकिन पक्का शेड ज्यादा बेहतर होता है क्युकी आपको हर दिन उसकी सफाई करनी होती है।
  • Lightning: इस बिजनेस को करने के लिए बिजली का कनेक्शन होना बहुत जरूरी है क्योंकि बिजली से पानी की मोटर, ट्यूबलाइट और हीटर चलाना होता है जिसकी जरूरत फार्म में होती है।
  • Water: ये बहुत ज्यादा पानी नहीं पीते है लेकिन पानी का होना बहुत जरूरी होता है क्योकि पानी का उपयोग सूअर को पानी पिलाने के लिए और फार्म की सफाई करने के लिए उपयोग होता है औसतन सूअर के छोटे बच्चे  6 से 7 लीटर पानी हर दिन पीते हैं और दूध देने वाली मादा 20 से 25 लीटर पानी हर दिन पीती है |
  • Pig Waste Management: सूअर फार्म 8 दिन में कम से कम दो बार सफाई करनी होती है जिसमे गन्दा पानी और कचरा निकलता है जिसमें सूअर का गोबर भी मिक्स होता है उसे हटाने के लिए आपके पास waste management होना जरूरी है |
  • Room: अगर आप बड़े स्तर पर व्यवसाई को कर रहे हैं तो इसकी जरूरत पड़ सकती है बिजनेस के लिए आपको अपने फार्म में रूम बनाने की भी आवश्यकता होती है जिसका उपयोग फॉर्म को मेंटेन करने वाला लेबर कर सकता है ओर खाना स्टोर करने के लिए भी रूम की जरूरत होती है |

इन्हें भी पढ़े:-

——————————————

जूते के business से कमाएँ 50000

करकनाथ मुर्गे से कमाएँ 40000महीना

Mop मेकिंग बिजनेस से 94000 monthly

Lubricant business से 100000 महीना कमाएँ

——————————————–

Pig Farming Business कैसे शुरू करे ?

इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको उपयुक्त जगह का चयन करना होता है इसके अलावा सूअर को रखने की व्यवस्था भी करनी होती है और उत्पादक सूअर की नस्ल खरीदने की जरूरत होती है इसके अलावा सूअर खाने की व्यवस्था भी करनी होती है और इसके अलावा सूअर कि देखभाल करने की भी आवश्यकता होती है और इस बिजनेस को शुरू करने के लिए इन चीजों का ध्यान रखना होगा |

  • Investment: इस व्यवसाय की शुरुआत छोटे स्तर पर कर सकते हैं और लगभग 50 से 70000 रुपये के साथ इस बिजनेस को शुरू किया जा सकता है और अगर आप ज्यादा ब्रीड खरीद कर कुछ महीनों बाद बेचना चाहते हो तो इसके लिए अधिक इन्वेस्टमेंट की आवश्यकता होगी  जिसे आप बैंक के लोन के जरिए ले सकते हो |
  • Land Selection: Pig Farming के लिए सही जगह का चुनाव करना जरूरी होता है और इसलिए ऐसी जगह का चयन करें जहां पर ताजे और साफ पानी की सुविधा हो पाये, वातावरण वहा का शांत होना चाहिए, कोशिश करें कि ग्रामीण क्षेत्र की भूमि पर या फिर किसी खाली जगह पर बिजनेस शुरू करें |
  • Shed Management: Shed का उपयोग सूअरों को खराब मौसम और कई प्रकार की बीमारियों से बचाता है आप इनके रहने के लिए पक्का Shed बनवा सकते हैं जिसमें उचित वेंटीलेशन कि सुविधा हो |
  • Productive Pig Breed: वैसे तो कई सारे सूअर के नस्ल हैं लेकिन सभी business के दृष्टिकोण से सही नहीं होते है लेकिन Pig Farming के लिये Large White Yorkshire, LandRace, Middle white Yorkshire का उपयोग कर सकते हैं |
  • Feed Arrangement : सूअर को सेहतमंद बनाने के लिए उसे अच्छी खुराक की जरूरत होती है वैसे तो आमतौर पर यह सब कुछ खा लेते हैं लेकिन गुणवत्ता और पौष्टिक भोजन खिलाने पर इनके अंदर काफी बदलाव होते हैं और यह बहुत जल्दी बड़े और मोटे तगड़े हो जाते हैं इसके भोजन के लिए गेहूं ,चावल ,मक्का, बाजरा,ज्वार का उपयोग कर सकते हैं इसके अलावा मछली का भोजन,मांस का खाना भी दे सकते हैं |
  • Pig Market : सूअर को बेचने के लिए आप उनसे कांटेक्ट कर सकते हैं जो सूअर के मांस बेचते हैं या फिर अगर आप सूअर के Breeding का बिजनेस करते हैं तो ऐसे लोगों को आप ढूंढ सकते हैं जिनेहे खरीदना हो और वह भी लोग आमतौर पर वही लोग होते हैं जो इसके मीट का व्यापार करते हैं |

Pig Farming Business से होने वाला लाभ ?

इस business से उधमी अगर Fattening के जरिए पैसा कमाना चाहता है तो एक सूअर पालन करने पर वो कम से कम 7 से 8 महीने बाद 25 से 30000 हर सूअर को बेचने पर कमा सकता है और अगर Breeding करता है तो 1 से 2 महीने में हर सूअर बेचने पर 10 से 15 हजार रुपए तक का प्रॉफिट कमा सकता है यानी कि कुल मिलाकर आपकी इनकम  जितना सूअर को बचोगे उतना  प्रॉफिट होगा |

निष्कर्ष:- दोस्तों आज के समय मे Pig के Meet की बहुत ज्यादा डिमांड है, मार्किट में अगर आप इस Business को शुरू करते हैं, तो अच्छा प्रॉफिट कमा सकते हैं, बेहद कम समय में |

https://www.youtube.com/watch?v=1bRKZjbiru8&t=2s

[sp_easyaccordion id=”1127″]